Post covid weakness

How to Overcome Post Covid weakness and side effects

कोरोना से बहुत लोगो ने लड़ कर अपने को सही किया है। उन सबको बहुत बधाई आपने बहुत हिम्मत दिखाई और इस बुरी बीमारी से लड़े। परन्तु कोरोना सही होने (Post Covid weakness, Post Covid effects ) के बाद बहुत से लोगो को कई परेशानी और कमजोरी देखी जा रही है। इस बीमारी ने लोगो को शारीरिक, मानसिक और भावनात्मक रूप से बहुत नुकसान पहुंचाया है।

COVID-19 महामारी, जिसे कोरोना वायरस महामारी (coronavirus epidemic) नाम से जाना जाता है इसकी शुरुआत चीन के वुहान शहर से हुई थी जहाँ दिसंबर 2019 में इसको पहचाना गया था। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने 30 जनवरी को इसे सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल (Public Health Emergency) की घोषणा की थी। पिछले साल कोरोना में भारत का ज्यादा नुकसान शहरों में हुआ था गांवों में इसका प्रभाव कम देखा गया था। पहली बार ज्यादातर जिनको कोरोना हुआ था उनमें सूखी खांसी, जोड़ों में दर्द, सिरदर्द इत्यादि जैसे लक्षण देखने को मिले थे। मगर इस बार शहरों के साथ साथ गांवों में इसके बहुत ज्यादा संक्रमण है। इस बार लोगो में साँस से संबंधित दिक्कत ज्यादा आ रही है।

जो लोग कोरोना से संक्रमित हुए थे और वे ठीक हो गए है उनमें से ज्यादातर में कुछ मानसिक, शारीरिक और भावनात्मक रूप से परेशानिया आ रही है। इन दिक्कतों से कैसे अपने को निकला जाए इसमें मैं आपकी मदद करूँगा।

मैंने इस लेख को लिखने से पहले कुछ लोगो से बात की जिन्होंने कोरोना को मात दी और अभी वे पूरी तरह स्वस्थ है साथ ही आयुर्वेदिक दवाईयों के लिए आयुर्वेदा डॉक्टर्स से सलाह भी ली है।

किस तरह की परेशानिया हो रही है-(Post Covid weakness, Post Covid effects)

  • सबसे ज्यादा परेशानी मानसिक रूप से आ रही है। इसके चलते लोगो में इतना डर पैदा हो गया कि सही होने के बाद भी वो डर निकल नहीं रहा है और उन्हें लगता है कि कही घर में कोई और सदस्य संक्रमित ना हो जाए
  • दूसरी सबसे ज्यादा परेशानी कोरोना से ठीक हुए लोगो में कमजोरी की (Post Covid weakness) है। जैसे शरीर में बिलकुल जान ना हो काम करने की हिम्मत नहीं होती चक्कर आते है।
  • जोड़ों और मांसपेशियों में दर्द जिसके चलते चलने में, सीढिया चढ़ने में परेशानी होना
  • जिन लोगो को कोरोना के दौरान साँस लेने में दिक्कतें आयी थी फेफड़ों का संक्रमण हुआ था उन्हें सही होने के बाद खाँसी रहना कुछ लोगो के फेफड़ों की क्षमता में कमी देखी जा रही है।
  • कुछ लोगो के साथ अवसाद, तनाव, जल्दी ग़ुस्सा आना और नींद ना आने की परेशानी हो रही है।
  • चीज़ो याद ना रख पाना जैसी परेशानिया भी किसी किसी में देखने को मिल रही है।
  • कुछ लोगो को सही होने के बाद भी हल्का बुख़ार रह रहा है।
  • किसी-किसी को सही होने के बाद में गंध या स्वाद लेने में परेशानी है।
  • पेट की समस्या जैसे भूख ना लगना, कब्ज रहना इत्यादि।

कैसे सही करें Post Covid care-
मानसिक और भावनात्मक-

  • सबसे पहले आपको अपने दिमाग पर काम करना होगा आपको दिमाग से डर निकलना पड़ेगा इसके लिए खबरें देखना, सोशल वेबसाइट देखना सब बंद कर दे। आज सबसे ज्यादा नकारात्मकता यही से आ रही है। जितना ज्यादा यहाँ से कोरोना के बारे में खबरें आती है उतना ही आपके दिमाग पर दवाब पड़ता है।
  • मेडिटेशन करना शुरू करें- यह आपके तनाव को कम करता और शांत करता है। आपको भावनात्मक रूप से मजबूत करता है। जिनको कोरोना सही होने के बाद सोने की परेशानी हो रही है उनके लिए ये बहुत ज्यादा फायदा पहुंचने वाली क्रिया है।
  • अपने परिवार के साथ समय बिताए उनके साथ पुरानी फोटो एल्बम देखें या आपके पास अपने परिवार की कोई वीडियो हो तो वे देखें आप देखेंगे कि आपका दिमाग शांत महसूस करेगा।
  • हास्य प्रोग्राम (comedy program) देखें हास्य फिल्म भी देख सकते है।
  • अगर आपके बच्चे है तो उनके साथ उनके खेलो में हिस्सा लें आपको एक अलग ही खुशी मिलेगी।
  • अगर आप ईश्वर में विश्वास रखते है तो आध्यात्मिक किताबें पढ़ सकते है या आध्यात्मिक भजन या गाने सुन सकते है।

शारीरिक-
कोरोना के आने के बाद सब को पता चला कि अपने शरीर पर ध्यान देना कितना जरुरी है। आज सभी अपनी इम्युनिटी (रोगो से लड़ने की शक्ति) को मजबूत करने के उपाए में लगे है।

  • प्रतिदिन व्यायाम करें हमारा शरीर सही से चलता रहें इसके लिए हमें प्रतिदिन व्यायम या कसरत जरूर करनी चाहिए इस से ना सिर्फ शरीर बाहर से मजबूत होता है बल्कि अंदर से भी मजबूत होता है जिसे इम्युनिटी बोलते है।
  • अगर आपको व्यायम या कसरत करने में कोई परेशानी होती है तो आप प्रतिदिन योगा भी कर सकते है। भस्त्रिका, कपालभाती, और अनुलोम-विलोम जैसे योगासन से आप अपने कमजोर हुए फेफड़ों की क्षमता बढ़ा सकते है।
  • आपका शरीर तभी स्वस्थ रहेगा जब उसको पौष्टिक भोजन मिलेगा। अपने खाने पर विशेष ध्यान दें। घर का बना पौष्टिक भोजन ही खाये।
  • सुबह जल्दी जगे और ताजा हवा में घूमे अभी तो आप अपने घर की छत पर ही घूम सकते है। जितना आप प्रकर्ति में निकलते है उतना आपका शरीर मजबूत होता है।
  • कोशिश करें प्रतिदिन 15-25 मिनट धूप में बैठे। सूर्य की किरणें हमारे शरीर से बहुत से वायरस को मार देती है साथ ही साथ हमें विटामिन -डी देती है जिसके कमी आज हर इंसान में है।
  • सही से साँस लेना लम्बी साँसे लेना शुरू करें। अपने लेख जिन्दगी भर निरोगी रहना है तो अपने साँस लेने का तरीका बदलो में मैंने इसको समझाया है जरूर पढ़े।

आयुर्वेदा-
कोरोना के बाद होने वाली परेशानी और कमजोरी (Post Covid weakness) को कैसे दूर करने में आयुर्वेदा आपकी बहुत मदद कर सकता है। कोरोना के इलाज के दौरान अंग्रेजी दवाई तो आप बहुत खा ही चुके है इसलिए आयुर्वेदा को चुनना आप के लिए अच्छा रहेगा।

    • शरीरिक कमजोरी के लिए आप मुनक्के का प्रयोग कर सकते है इसके अलावा अंजीर भी शरीर से दुर्बलता हटाने में बहुत मददगार होते है। अगर आप किसी आयुर्वेदिक टॉनिक का प्रयोग करना चाहते है तो आप द्राक्षासव (Drakshasava) लें सकते है। इसके अलावा आप रसायन चूर्ण Rasayan Churna का प्रयोग भी कर सकते है।
    • अगर आपको कब्ज और भूख ना लगने की परेशानी है तो आप रोज रात को सोते समय त्रिफला लेना शुरू कर दे। त्रिफला हमारे शरीर के तीनो दोष ( वात-पित्त-कफ ) को संतुलन में करता है जिस से आपको अपनी रिकवरी में बहुत मदद मिलेगी।
    • आपके जोड़ों और मांसपेशियों में दर्द की वजह अगर कमजोरी (Post Covid weakness) है तो ऊपर बताई गयी टॉनिक से ये सही हो जाएगी नहीं तो आप हिमालय कंपनी की शालकी – Himalaya Shallaki Tablet ले सकते है।
    • नींद आने में अगर आपको ज्यादा परेशानी है या आपको अवसाद, तनाव, जल्दी ग़ुस्सा आना ये सब हो रहा है तो आप अश्वगंधा चूर्ण- Ashwagandha का प्रतिदिन प्रयोग कर सकते है। ये आपके दिमाग की शांत करने में आपकी मदद करेगा साथ ही आपके शरीर को बल देगा। अगर आप नींद के लिए किसी आयुर्वेदिक दवाई की मदद लेना चाहते है तो आप Himalaya Tagara Tablet लें सकते है 1-2 महीने इसका प्रयोग करें और धीरे-धीरे आपकी प्राकृतिक नींद वापिस आ जाएगी। ये बाजार में मिलने वाली आदत डालने वाली दवाई नहीं है ये एक जड़ी बूटी(herb) है जो नींद में आपकी मदद करती है।
    • अगर आपको खासी की परेशानी है तो आपके लिए सबसे अच्छी आयुर्वेदिक औषधि है- सितोपलादि चूर्ण (Sitopaladi Churna). आपकी श्वसन प्रणाली (respiratory system) के लिए ये एक बहुत बेहतरीन औषधि है। इसके सेवन से श्वास, खाँसी, क्षय रोग सही होते है।
    • कुछ लोगो को कोरोना सही होने के बाद भी हल्का हल्का बुखार रहने की शिकायत है वे एक औषधि जिसका नाम है महासुदर्शन घन वटी – Mahasudarshan GhanVati या इसका चूर्ण भी आता है महासुदर्शन चूर्ण (Mahasudarshan Churan) ले सकते है। शरीर में होने वाले किसी भी तरह के बुखार को सही करने में इसका जवाब नहीं है।
    • अगर आपको चीजें याद रखना भूलने की परेशानी हो रही है तो आप ब्रह्म रसायन (Brahma Rasaayanam) ले सकते है। हिमालय कंपनी की ब्राह्मी (Himalaya Brahmi) भी एक बहुत अच्छी औषधि है।
    • अगर आपको अपनी इम्युनिटी (रोगो से लड़ने की शक्ति) बढ़ानी है तो आप गिलोय का प्रयोग कर सकते है इसका गिलोय चूर्ण और गिलोय जूस दोनों आते है। इसके अलावा हल्दी वाला दूध पीते रहे। तुलसी का प्रयोग करें आज कल पांच तरह की तुलसी को मिलकर ड्रॉप्स मार्केट में मिलते है उसका प्रयोग करें। आंवला चूर्ण, आंवले का मुरब्बा, आंवला कैंडी आंवला जूस का खूब सेवन करें। इसके अलावा बनी हुई औषधि में च्यवनप्राश (Chyawanprash) खाये। इन सब से आपकी इम्युनिटी मजबूत होती है।

आशा करता हूँ मेरी बताये गए तरीको को अपना कर आप जल्दी से जल्दी कोरोना के बाद होने वाली परेशानी और कमजोरी (Post Covid weakness, Post Covid effects ) से निकल पाएंगे

ध्यान दें:– आपसे अनुरोध है कि यहाँ बताये गए औषधियो का प्रयोग करने से पहले अपने डॉक्टर / वैद्यराज की सलाह जरूर ले। उपरोक्त वर्णित सभी जानकारी अनुभव एवं अनुशंधान के आधार पर लिखी गई हैं, जानकारी के अनुसार किये जाने वाले प्रयोग या उपायों कि प्रामाणिकता एवं लाभ-हानि की जिन्मेदारी संपादक की नहीं हैं।

Products mentioned in article(Not Sponsored)
Drakshasava- Buy Now
Rasayan Churna – Buy Now
Triphala Churna – Buy Now
Himalaya Shallaki – Buy Now
Ashwagandha – Buy Now
Himalaya Tagara – Buy Now
Sitopaladi Churna – Buy Now
Mahasudarshan Ghan Vati – buy Now
Mahasudarshan Churna – Buy Now
Brahma Rasaayanam – Buy Now
Himalaya Pure Herbs Brahmi – Buy Now
Giloy/Guduchi – Buy Now
Giloy Juice – Buy Now
DABUR Tulsi Drops – Buy Now
Amla Juice – Buy Now
Amla Churna – Buy Now
Amla Murabba – Buy Now
Amla Candy – Buy Now
Chyawanprash – Buy Now

10 Comments

  1. बहुत अच्छा पोसवाल जी, आपने तो बहुत बड़ी समस्या का हल फ़्री में दे दिया ।आपका बहुत धन्यवाद

  2. kya aap ayurveda practitioner hai ? kafi achi knowledge hai aap ko

  3. बहुत लोग ये सर्च कर रहे होंगे. आप ने बहुत सही लेख लिखा है भाई साहब ।

  4. मैं एक लोकल हिन्दी न्यूज़ पेपर चलाता हूँ उसमें हेल्थ का सेक्शन है क्या आप मेरे लिए लिखना पसंद करेंगे?

  5. लोग अभी भी वैक्सीन लगवाने से डर रहे है जिन्हे ये बीमारी हुई है वो जानते है ये कितने खतरनाक है। वैक्सीन के बारे में भी कुछ लिख लोगो को एक्जूकेट करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: