Is it better to drink sports drinks instead of water

क्या आपको पानी के बजाय स्पोर्ट्स ड्रिंक पीना चाहिए? (Should You Drink Sports Drinks Instead of Water?)

डिहाइड्रेशन के लिए बेहतर क्या है: पानी या स्पोर्ट्स ड्रिंक्स (What’s Better for Dehydration – Water or Sports Drinks)

Sports drinks pina chahie ya nahin

आजकल स्पोर्ट्स ड्रिंक्स(sports drinks) या एनर्जी ड्रिंक्स कुछ ज्यादा ही चलन है। मुख्य रूप से जिम जाने वाले और एथलीट्स इसका बहुत प्रयोग कर रहें है। आपने जिम में कसरत के दौरान या बाद में लड़कों को किसी रंग के पेय पीते हुए देखा होगा यही है ये स्पोर्ट्स ड्रिंक्स(sports drinks) जो दुनिया भर में एक बहुत बड़े कारोबार का एक बड़ा हिस्सा हैं। जिम जाने वाले और एथलीट्स इसके इतने ज्यादा आदी हो गए है कि इसके बिना उनका कसरत करने का मन ही नहीं करता। ऐसे लोग मानते हैं कि ये व्यायाम प्रदर्शन को बेहतर बनाने के लिए जादुई अमृत हैं। हालांकि, कुछ लोग ये मानते है कि यह सिर्फ मार्केटिंग है इसका ऐसा कोई फायदा नहीं हो आपको इसका प्रयोग नहीं करना चाहिए।

आज आपकी इस उलझन का समाधान मैं इस लेख में करूँगा जिसमें हम समझेंगे कि आखिर ये स्पोर्ट्स ड्रिंक्स(sports drinks) है क्या और इनका प्रयोग करना कितना सही है या इनकी हमें कोई जरुरत है या नहीं?

स्पोर्ट्स ड्रिंक में क्या होता है?
स्पोर्ट्स ड्रिंक मुख्य रूप से पानी ही है जिसमें कुछ कार्बोहाइड्रेट, इलेक्ट्रोलाइट्स, कैल्शियम, मैग्नीशियम, सोडियम और पोटेशियम जैसे खनिज पदार्थों को मिला दिया जाता है। इन पेय में कार्बोहाइड्रेट अक्सर चीनी, कृत्रिम स्वीटनर, ग्लूकोज, सुक्रोज और फ्रुक्टोज जैसे शर्करा के रूप में होते हैं। मुख्य रूप से इसमें पाए जाने वाले पदार्थ है इलेक्ट्रोलाइट्स सोडियम और पोटेशियम हैं। विशेषज्ञों के अनुसार हमारे शरीर में उचित द्रव स्तर बनाए रखने के लिए हमें इलेक्ट्रोलाइट्स की आवश्यकता होती है, और कसरत के बाद, आप पसीने से हम कुछ इलेक्ट्रोलाइट्स खो देते हैं।

बस यहीं से इन स्पोर्ट्स ड्रिंक्स(sports drinks) बनाने वालो की मार्केटिंग शुरू होती है। ये दावा करते है कि जब पसीने की वजह से आपके शरीर से जरुरी खनिज और इलेक्ट्रोलाइट्स निकल जाते है तो उनका प्रोडक्ट उन सभी को पूरा करने में आपकी मदद करता है। स्पोर्ट्स ड्रिंक के बाजार में कई ब्रांड उपलब्ध हैं, लेकिन अगर उनके शरीर पर प्रभाव देखें जाए तो शायद कोई बड़ा अंतर नहीं है।

इन प्रोडक्ट्स के साथ आज सबसे बड़ी दिक्कत ये होने लगी है कि जिनके लिए इनकी कोई जरुरत भी नहीं है वो भी इनके ले रहें है। अगले भाग में मैं आपको यही बताने जा रहा हूँ कि कब ये आपको कुछ फायदा दे सकते है और कब हमें इनकी नहीं सिर्फ पानी की जरुरत होती है।

स्पोर्ट्स ड्रिंक्स(sports drinks) का कब फायदा हो सकता है?
आमतौर पर देखा गया है कि जिम में ज्यादातर लोग 40-60 मिनट ही व्यायाम करते है। इस स्थिति में आपको किसी भी तरह की स्पोर्ट्स ड्रिंक्स जरुरत नहीं है आपके लिए पानी ही काफी है। यदि आप का व्यायाम 60 मिनट से ज्यादा चलने वाला है और अगर उसमें भी आप तीव्रता से प्रशिक्षण या व्यायाम करते है और या आप जिस जगह पर है वहां जरुरत से ज्यादा गर्मी है तो आपका जरुरत से ज्यादा पसीना निकलेगा उस स्थिति में आपको ये स्पोर्ट्स ड्रिंक्स(sports drinks) कुछ हद तक फायदा दें सकती है। जिम में अगर आप ज्यादा समय के लिए व्यायाम करते है परन्तु आपके सेटों के बीच आराम का समय ज्यादा है तो भी आपको इसकी कोई जरुरत नहीं है।

Is it better to drink sports drinks instead of water?

किस तरह की स्पोर्ट्स ड्रिंक्स(sports drinks) लेनी चाहिए?
सभी स्पोर्ट्स ड्रिंक एक जैसे नहीं होते हैं। जैसा की मैंने पहले भी बताया है की स्पोर्ट्स ड्रिंक्स में 3 प्रमुख घटक होते है – कार्बोहाइड्रेट, सोडियम और पोटेशियम। किसी भी स्पोर्ट्स ड्रिंक्स को खरीदते समय हमें इन मुख्य पदार्थों की मात्रा पर विशेष ध्यान देना चाहिए। सोडियम आपकी प्यास को बढ़ाता है, जिससे आप अधिक पीना चाहते हैं। यह द्रव अवशोषण को भी बढ़ाता है। पोटेशियम डाला जाता है क्योंकि यह व्यायाम के दौरान मांसपेशियों के संकुचन में मदद करता है। अगर हम इनकी मात्रा की बात करें तो लगभग 250 ml ड्रिंक में 11 से 23 ग्राम कार्बोहाइड्रेट, 80 से 160 मिलीग्राम सोडियम और 16 से 45 मिलीग्राम पोटेशियम होना चाहिए।

क्या स्पोर्ट्स ड्रिंक्स(sports drinks) के हानिकारक प्रभाव हो सकते है?
वैसे स्पोर्ट्स ड्रिंक्स कई प्रकार के व्यायाम के दौरान एथलीटों के प्रदर्शन में सुधार कर सकते हैं परन्तु फिर भी ये ज्यादातर लोगों के लिए अनावश्यक हैं। आप पानी से शरीर के हाइड्रेशन को पूरा किया जा सकता है, और पोषण से भरपूर आहार का सेवन करके इलेक्ट्रोलाइट्स की भरपाई की जा सकती है, जिसमें स्वाभाविक रूप से इलेक्ट्रोलाइट्स होते हैं। क्योंकि स्पोर्ट्स ड्रिंक्स में अतिरिक्त शर्करा और कैलोरी आपके शरीर में मोटापा बढ़ाने की स्थिति बना सकते है। यदि फिर भी आप इन पेय पदार्थों को पीना चुनते हैं, तो यह महत्वपूर्ण है कि इनका अधिक सेवन न करें।

फिटनेस और बॉडी बिल्डिंग से सम्बंधित हमारे कुछ और लेख जरूर पढ़े:–

क्या आपको पानी पीने का सही समय और तरीका पता है ? (Do you know right way and time to drink water?)
फिटनेस दुनिया की 21 अफवाहें जिन पर आपको विश्वास करना बंद कर देना चाहिए (21 Common Fitness Myths You Should Stop Believing)
क्या महिलाओं को वजन से व्यायाम करना चाहिए ? Should women do weight training in gym
मसल्स का आकार बढ़ाने के 10 बुनियादी नियम – 10 basic rules to increase muscle size
बाजुओं का जबरदस्त आकार लाने वाले 3 सुपरसेट – Grow Huge Arms with These 3 Superset Workout
क्या करें जब आपको वर्कआउट से परिणाम मिलना बंद हो जाए – What to do when your body stop getting results from your workouts
40 की उम्र के बाद क्यों बढ़ता है बेली फैट – How To Lose Belly Fat After 40
प्राकृतिक रूप से ह्यूमन ग्रोथ हार्मोन को बढ़ाने के 6 तरीके – 6 Ways to Boost Human Growth Hormone (HGH) Naturally

Leave a Reply

Your email address will not be published.